home page

कृषि क्षेत्र में कृषकों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो

कृषि क्षेत्र में कृषकों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो
 | 
अमेठी समाचार
अमेठी समाचार

*कृषि क्षेत्र में कृषकों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो, इस मंशा से शासन व प्रशासन पूरी प्रतिबद्धता के साथ कर रहा है कार्य......डीएम।*

*अमेठी*
जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने आज जिला पंचायत रिसोर्स सेंटर गौरीगंज के प्रांगण में आयोजित जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी का दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारम्भ किया। इसके उपरांत उन्होंने कृषि, उद्यान, श्रम, वन, पशुपालन एवं विभिन्न समूह द्वारा लगाए गए स्टालों का अवलोकन किया। उन्होंने गोष्ठी में आए हुए सभी किसानों का अभिनंदन करते हुए कहा कि जब भी विकास की बात होती है तो उसके केन्द्र बिन्दु में कृषि क्षेत्र की प्रमुख भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार जब राज्य की अर्थव्यवस्था की बात होती है तो उसके मूल आधार में भी आशय कृषि से ही होता है। उन्होंने कहा कि शासन की मंशानुसार किसान का हित सर्वोच्च है, सरकार और प्रशासन इसके लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी आवश्यकता अनुसार खाद, बीज आदि का वितरण सुनिश्चित किया गया है। कृषि क्षेत्र में तेजी से विकास हो रहा है। सिंचाई के लिए समय पर समुचित पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। टेल तक पानी पहुंचाने के लिए जनपद स्तर के साथ साथ उच्च स्तर पर भी अनुश्रवण किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिला प्रशासन किसानों के हित के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि जनपद में कृषि से सम्बन्धित कार्यो में हम अच्छी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।  उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में कृषकों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो, इस मंशा से शासन प्रशासन पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि कृषि उत्पादन में लगातार बढ़ोतरी तथा कृषि उपज के उचित विपणन से किसानो के जीवन स्तर में और अधिक सुधार आएगा। उन्होंने कहा कि हमें अपनी प्राकृतिक सम्पदा को बचाने के लिए भी कृषि और विशेषकर जैविक खेती को और अधिक प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ने कहा कि किसानों की किसी भी समस्या का तत्काल निराकरण करने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध हैं। जिलाधिकारी ने किसानों से आग्रह किया कि वे पराली किसी भी हाल में न जलाएं, सेटेलाइट से ऐसी घटनाएं पकड़ ली जाती हैं, पराली जलाने वाले किसी भी व्यक्ति के विरुद्ध नियमानुसार कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गोष्ठी में किसानों ने आवारा पशुओं, विद्युत, खाद की समस्या उठाई, जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को मौके पर ही निस्तारण के निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी सान्या छाबड़ा ने अपने सम्बोधन में कहा कि प्रगतिशील किसानों की तरह सभी किसान कार्य करें। उन्होंने कहा कि गोष्ठी कार्यक्रम के माध्यम से किसानों को कृषि सम्बन्धित दी जा रही आधुनिक कृषि तकनीकी को जाने तथा उसके अनुसार खेती करें। गोष्ठी में किसानों को कृषि वैज्ञानिकों के माध्यम से भी कृषि से सम्बन्धित महत्वपूर्ण जानकारियां भी दी गई। इससे पूर्व जिलाधिकारी ने गोष्ठी में लगाए गये स्टालों का अवलोकन किया। इस अवसर पर प्रभागीय वनाधिकारी डीएन सिंह, जिला विकास अधिकारी तेजभान सिंह, उप कृषि निदेशक सत्येंद्र चौहान, जिला कृषि अधिकारी अखिलेश पांडे, जिला पंचायत राज अधिकारी श्रीकांत यादव, जिला उद्यान अधिकारी, कृषि विज्ञान केंद्र कठौरा के कृषि वैज्ञानिक डॉ आरके आनंद सहित बड़ी संख्या में प्रगतिशील किसान उपस्थित रहे।

*रिपोर्ट -रमेश कुमार मंडल प्रमुख अमेठी*