home page

ईदुज्जुहा (बकरीद) एवं कोविड संक्रमण के दृष्टिगत जनपद में धारा-144 दण्ड प्रक्रिया संहिता लागू

ईदुज्जुहा (बकरीद) एवं कोविड संक्रमण के दृष्टिगत जनपद में धारा-144 दण्ड प्रक्रिया संहिता लागू
 | 
अमेठी सामाचार
अमेठी सामाचार

*ईदुज्जुहा (बकरीद) एवं कोविड संक्रमण के दृष्टिगत जनपद में धारा-144 दण्ड प्रक्रिया संहिता लागू।*

अमेठी अपर जिला मजिस्ट्रेट (वि0/रा0) ए0के0 सिंह ने बताया कि माह जुलाई-2022 में 10 जुलाई 2022 व 11 जुलाई 2022 को ईदुज्जुहा (बकरीद) एवं 10 जून 2022 को जुमे की नमाज के बाद प्रदेश के कतिपय जनपदों में घटित घटनाओं एवं कोविड संक्रमण के दृष्टिगत जनपद में कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने तथा जनसामान्य के जीवन की सुरक्षा हेतु जनहित में द0प्र0सं0 की धारा-144 के अन्तर्गत प्रभावी आदेश को वर्तमान परिस्थितियों के अनुसार संशोधित करते हुए 31 जुलाई 2022 से आगे विस्तारित किया जाना अपरिहार्य है, ऐसी स्थिति में जनपद अमेठी के सम्पूर्ण सीमा क्षेत्र में कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने हेतु द0प्र0सं0-1973 की धारा-144 के अन्तर्गत जनपद की सीमा में 31 जुलाई 2022 तक प्रभावी रहेगा। उन्होंने बताया कि सम्पूर्ण जनपद में (शहर/ग्रामीण) सम्पूर्ण क्षेत्र में मास्क की अनिवार्यता सुनिश्चित करते हुए भीड़ वाले स्थानों पर आवागमन व जनपद वासियों को बिना मास्क के घर से बाहर निकलने से प्रतिबन्धित किया जाता है। उक्त अवधि में किसी भी व्यक्ति या समूह द्वारा किसी प्रकार की अफवाह, वक्तव्य, पर्चा, पम्पलेट अथवा इलेक्ट्रानिक संसाधनों से कोई ऐसा संदेश प्रसारित नही करेगा जिससे भय उत्पन्न हो, जूलुस इत्यादि प्रशासन की अनुमति से आयोजित किये जायेगे, सार्वजनिक स्थलों पर भीड़-भाड़ न हो, मास्क का प्रयोग करे, समारोह एवं बैठकों में लोगों की सीमित संख्या हो व आपस में दूरी कम से कम एक मीटर हो, किसी भी स्थान पर 5 से अधिक व्यक्ति एकत्र नही होगें जिससे शान्ति व्यवस्था भंग व बीमारी फैलने की आशंका हो, आग्नेय अस्त्र, चाकू, फरसा, भाला आदि लेकर न घूमे न ही किसी भी रूप में प्रर्दशन किया जाय, किसी भी व्यक्ति अथवा समूह द्वारा कोई ऐसा कृत्य न किया जाय जिससे किसी धार्मिक भावना को आघात हो, म्यूजिक सिस्टम/लाउडस्पीकर का सार्वजनिक प्रयोग वर्जित, घर के बाहर अथवा सार्वजनिक स्थान पर ईंट, पत्थर आदि एकत्र नही किये जाये, मा0 उच्च न्यायालय के आदेशानुसार 80 डेसीबल से अधिक ध्वनि विस्तारक न करें व ध्वनि विस्तारक यंत्र प्रयोग करने हेतु सक्षम अधिकारी की अनुमति हो व रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ध्वनि विस्तारक यंत्र का प्रयोग नही करेंगे तथा निर्धारित की गयी सीमा से अधिक ध्वनि विस्तारक से डी0जे0 का प्रयोग किया जाता है तो ऐसी दशा में ध्वनि के उपयोग करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि उक्त आदेश ड्यूटी पर तैनात पुलिस व सुरक्षाकर्मी, वाणिज्य प्रतिष्ठिानों के सुरक्षा में लगे सुरक्षा गार्डाे एवं शासकीय कर्मचारियों, सिक्खों की कृपाण, लाठी के सहारे चलने वाले व्यक्तियों, कृषि उपकरणों पर लागू नही होगे तथा आदेश के व्यापक प्रचार-प्रसार सम्बन्धित प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में लाउडस्पीकर द्वारा करायेंगे व आदेश की प्रतियॉ प्रमुख स्थल, तहसील, स्थानीय निकाय के कार्यालयों तथा कलेक्ट्रेट के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की जाय।

*रिपोर्ट -रमेश कुमार मंडल प्रमुख अमेठी*