home page

सफाईकर्मी के न आने से, ब्लाक प्रमुख द्वारा बनवाई गयी सड़क टूटने की कगार पर।

 | 
सफाईकर्मी के न आने से, ब्लाक प्रमुख द्वारा बनवाई गयी सड़क टूटने की कगार पर।

विकासखंड सुमेरपुर के अंतर्गत ग्राम सभा गौरा के दरियापुर गांव में सरकार के द्वारा स्वच्छ भारत अभियान की योजना का पलीता लगाता हुआ सफाई कर्मी।वही  लगभग 1 साल से गांव नही पहुंचा सफाई कर्मी। नालियां जाम हो गयी हैं। गांव के लोगों ने कई बार नालियों को साफ किया। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि सफाई कर्मी किस लिए जब हम लोगों को ही सफाई करना है इस समय नाली जाम होने के कारण पानी नालियों से ऊपर बह रहा है। जिससे कुछ महीने पहले ग्राम प्रधान प्रतिनिधि बैजनाथ सिंह के सहयोग से सुमेरपुर ब्लाक प्रमुख योगेश बाजपेई के द्वारा इस गांव में जिस सड़क पर सबसे ज्यादा बरसात में पानी भरता था उस सड़क को बनवा कर लोगों को आने जाने का रास्ता बना दिया था लेकिन सफाई कर्मी की लापरवाही से नालियों को ऊपर से पानी होने से उस सड़क का किनारा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त होने लगा है वही कई बार ग्रामीण इन नालियों को साफ कर चुके हैं लेकिन सफाई कर्मी आज तक देखने नहीं पूछा इस गांव का क्या है हाल वहीं जब यह बात सफाई कर्मी को कहा गया तो उन्होंने सोमवार, मंगलवार की बात कह कर महीनों निकाल दिए। वहीं सफाई कर्मी को यह भी कहा गया कि अभी कुछ महीने पहले ब्लॉक प्रमुख के द्वारा बनवाई गई सड़क टूट जायेगी। उसके बाद भी सफाई कर्मी ने नहीं दिया कोई ध्यान वहीं जहां एक तरफ सरकार लगातार स्वच्छ भारत अभियान को लेकर के बड़े-बड़े वादे करती है वहीं यह सफाई कर्मी सरकार के स्वच्छ भारत अभियान के वादों को पलीता लगाने में सफल हो रहा है वहीं जहां ग्राम प्रधान के द्वारा स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने के लिए लगातार सफाई कराई गई इस गांव में लेकिन वही सफाई कर्मी ने उनकी स्वच्छ भारत अभियान को लगातार पलीता लगा ही रहा है आखिर ऐसा कौन सा ताकतवर आदमी उसके साथ है कि वह ग्राम प्रधान के द्वारा स्वच्छ भारत अभियान को असफल बनाने में लगा है, और सफाई कर्मी उसको दबाने में लगा है क्या ब्लाक प्रमुख के द्वारा बनवाई गई सड़क के किनारे को एक साल के अंदर ही टूट जाने के बाद करेगा सफाई।

रिपोर्ट:- विजय कुमार यादव एडिशनल कोऑर्डिनेटर यूपी