home page

पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर एमसीएफ मज़दूर संघ ने किया धरना प्रदर्शन

 | 
पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर एमसीएफ मज़दूर संघ ने किया धरना प्रदर्शन


प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन महाप्रबंधक को सौंपा

 लालगंज रायबरेली।पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर मॉडर्न कोच फैक्ट्री में गेट मीटिंग कर धरना प्रदर्शन किया गया, और मॉडर्न कोच फैक्ट्री मज़दूर संघ के कार्यकारी अध्यक्ष आदर्श सिंह बघेल की अगुवाई  में अपनी पुरानी पेंशन की मांग को लेकर एक ज्ञापन महाप्रबंधक को सौंपा।
 रेलकोच में भारतीय मज़दूर संघ की इकाई एमसीएफ मज़दूर संघ ने पुरानी पेंशन की मांग को लेकर फैक्ट्री गेट में गेट मीटिंग की, इस दौरान महामंत्री सुशील गुप्ता ने  कहा कि भारतीय रेलवे मज़दूर संघ के 20वे त्रैवार्षिक अधिवेशन चेन्नई में रेल कर्मचारियों के भविष्य के लिए एनपीएस को समाप्त कर पुरानी पेंशन के लिए आंदोलन करने का निर्णय किया गया। एनपीएस कर्मचारियों के लिए 2004 से लागू की गई है, जिससे कर्मचारियों के बुढ़ापे के एक मात्र सहारा पेंशन भी शेयर बाजार के भरोसे छोड़ दी गयी है, जिसमे पेंशन की कोई गारंटी नही है, जबकि ओपीएस में मिनिमम 50% अंतिम वेतन का पेंशन मिलना तय था, व समय समय पर महंगाई भत्ता भी मिलता था, जो इस एनपीएस में खत्म कर दिया गया है, जिससे कर्मचारियों में इसके खिलाफ भारी आक्रोश है, और कर्मचारी संगठन लगातार इसका विरोध करते रहे है, हाल ही में राजस्थान व छत्तीसगढ़ सरकार ने कर्मचारियों की बहुप्रतीक्षित मांग ओपीएस को लागू कर दिया है, इससे रेल सहित सभी केंद्रीय कर्मचारियों में ओपीएस की मांग एक बार फिर जोरो पर है, बीएमएस का मानना है कि कर्मचारियों का ओपीएस मेन मुद्दा है व यह हक भी है, सरकार की ज़िम्मेदारी बनती है कि वह अपने कर्मचारियों को रिटायरमेन्ट के बाद सम्मानजनक  समाजिक सुरक्षा व जीने का अधिकार मिलना चाहिए, किन्तु एनपीएस में पेंशन की राशि की कोई गारंटी ना होने से कर्मचारियों में असुरक्षा की भावना बनी हुई है, इसीक्रम में बीएमएस ने पूरे भारत मे 3 मई से 6 मई तक जनजागृति अभियान चलाया, प्रधानमंत्री को पुरानी पेंशन बहाली की मांग का ज्ञापन भेजा गया। इस कार्यक्रम में आदर्श बघेल, रामबरन वर्मा, ज्ञानेंद्र सिंह, राजेन्द्र यादव, राकेश कुमार, मुन्ना सिंह, गिर्राज सैनी, जितेंद्र सिंह, रामसन अग्रहरि, जितेंद्र यादव,सचिन साहू, कुणाल रोशन आदि उपस्थित रहे।

आई एन एफ न्यूज़ उत्तर प्रदेश


असगर अली पत्रकार बछरावां रायबरेली