home page

यूडी आईडी कार्ड दिव्यांगों के विशिष्ट पहचान पत्र बनवाने में दलाल सक्रिय

उच्चाधिकारी दलालों की दलाली  रोकने में नाकाम
 
 | 
यूडी आईडी कार्ड दिव्यांगों के विशिष्ट पहचान पत्र बनवाने में दलाल सक्रिय

रायबरेली -- दिव्यांग जनों को केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा प्रदत सरकारी योजनाओं के लाभ के लिए यूडी आईडी कार्ड के माध्यम से उनकी विकलांगता के प्रतिशत के हिसाब से योजनाओं का लाभ चालीस प्रतिशत से ऊपर के दिव्यांगों को विकलांगता की पेंशन, बस व ट्रेन में सफर में छूट के साथ-साथ सरकारी सेवाओं में व आरक्षण और कोविड टीकाकरण अभियान में भी दिव्यांग जनों को वरीयता दी जाती है। वहीं सीएमओ ऑफिस में प्रत्येक सोमवार को सौ से डेढ़ सौ दिव्यांग जनों के यूडी आईडी कार्ड फॉर्म भरकर और डॉक्टरी परीक्षण के उपरांत यूटी आईडी कार्ड बनाए जाते हैं। जिससे दिव्यांग जनों को उनके सरकार द्वारा मौलिक अधिकारों को भी समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए सरकार प्रयासरत रहती है। यूडी आईडी कार्ड के बारे में यूडी आईडी कार्ड बनाने वाले बाबू अनुक्रांत आनंद ने बताया कि प्रत्येक सोमवार को जिले के कोने कोने से आने वाले दिव्यांग जनों के यूडी आईडी कार्ड डॉक्टरी परीक्षण के उपरांत कार्ड बनाए जा रहे हैं वहीं सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार यूडी आईडी कार्ड बनवाने में जहां दिव्यांगों को उनकी सहायता के नाम पर कुछ महिलाएं और पुरुष दिव्यांग जनों को गुमराह करके दलाली का कार्य जोरों से चल रहा है जिस पर सीएमओ ऑफिस में बैठे उच्चाधिकारी इन दलालों पर अंकुश लगाने में नाकाम है।


असगर अली पत्रकार बछरावां
 रायबरेली