home page

यूपी में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य

यूपी में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य

 | 
रायबरेली समाचार
लखनऊ समाचार

*यूपी में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, CM योगी ने इन जिलों के लिए जारी किए आदेश*

लखनऊ।कोरोना का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है। देश की राजधानी दिल्ली समेत कई शहरों से लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों की ख़बरें सामने आ रही हैं।ऐसे में अब फिर से सरकारों ने एहतियात बरतना शुरू कर दिया है।उत्तर प्रदेश में भी कोरोना वायरस एक बार फिर अपना पांव पसार रहा है। प्रदेश में रविवार को कोरोना के कुल 135 नए मामले सामने आए,वहीं एक मरीज की मौत हुई है, जबकि 31 कोरोना मरीजों ने कोरोना को मात दी है।ऐसे में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अलर्ट मोड में आ गये है और बढ़ते हुए मामलों पर बड़ा फैसला लिया है।

सीएम योगी ने एनसीआर के जिलों और राजधानी लखनऊ में मास्क पहनना जरूरी करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने कहा कि एनसीआर के जनपदों में गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, बुलंदशहर, बागपत तथा लखनऊ जनपद में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाया जाना अनिवार्य किया जाए।इन जनपदों में टीकाकरण से छूटे लोगों को चिन्हित कर कोरोना का टीका लगाया जाए।पब्लिक प्लेस में सिस्टम का प्रभावी ढंग से इस्तेमाल किया जाए। सीएम योगी योगी सोमवार को टीम 9 के साथ प्रदेश के जिलों में कोरोना की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में पिछले एक हफ्ते से लगातार कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है जिसके बाद राज्य सरकार ने एहतियातन ये फैसला लिया है।यूपी में दिल्ली से सटे गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद में ही कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।नोएडा में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 65 नए मामले सामने आए हैं।जिसमें 19 बच्चे शामिल हैं।इन बच्चों की उम्र 18 साल से भी कम है।नोएडा में अब तक कुल कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 237 पहुंच चुकी है। वहीं रविवार को प्रदेश में 135 नये मरीज मिले हैं। इसके बाद एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 610 हो गई है। जबकि 31 कोरोना मरीज स्वस्थ हो गए हैं।शनिवार को कोरोना संक्रमण के 106 मरीज मिले थे।

एक ओर तो देश में कोरोना के मामलों में कमी आ रही है तो वहीं दूसरी ओर देश के कुछ हिस्सों में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी भी देखने को मिल रही है। जिसके चलते माना जा रहा है कि कोरोना की चौथी लहर आहट दे रही है। हाल ही में देश के कुछ हिस्सों में कोरोना के नए वैरिएंट की भी पुष्टि हुई है।स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों की मानें तो भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 949 मामले सामने आए हैं। आईआईटी कानपुर ने दावा किया है कि देश में जून में कोरोना की चौथी लहर आ सकती है।चौथी लहर 22 जून के आसपास शुरू हो सकती है।अनुमान है कि ये लहर 4 महीने तक चलेगी।


*असगर अली पत्रकार*