home page

इंस्पेक्टर की तेज रफ्तार कार से एक्सीडेंट , एक की मौत

 | 
इंस्पेक्टर की तेज रफ्तार कार से एक्सीडेंट , एक की मौत

 प्रयागराज-कानपुर हाईवे पर मंगलवार रात बाइक सवार 20 वर्षीय साहिल पुत्र बन्ने व 19 वर्षीय जफर पुत्र कासिम निवासी रेड्इया, आबूनगर कोतवाली को पीछे से आए तेज रफ्तार कार सवार इंस्पेक्टर ने कुचल दिया। गंभीर हालत में घायल दोस्तों को जिला अस्पताल लाया गया जहां साहिल को चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया जबकि जफर को लाला लाजपत राय, कानपुर रेफर कर दिया गया। खबर पाकर पहुंचे स्वजन व भीड़ ने घटना के विरोध में जिला अस्पताल में हंगामा किया। मृतक के पिता मोहम्मद बन्ने, मां, भाई, बहन और मोहल्ले के लोग अस्पताल पहुंच गए। इंस्पेक्टर से झड़प होने लगी। भीड़ इंस्पेक्टर पर हावी हो गई। सूचना पर कोतवाल अमित मिश्रा फोर्स के साथ पहुंचे। परिजन शव लेकर जिला अस्पताल गेट पर आ गए। डीएम व एसपी को बुलाने की मांग की। इंस्पेक्टर रवि पर नशे में होने का आरोप लगाकर गाली-गलौज कर हंगामा करने लगे। एसडीएम एनपी मौर्या, सीओ सिटी डीसी मिश्रा और पीएसी बल पहुंचा। इस बीच पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए लाठियां पटकी और शव कब्जे में लिया। लोग फिर हंगामा करने लगे। इंस्पेक्टर पर कार्रवाई की मांग की। सीओ सिटी ने कार्रवाई का आश्वासन देकर भीड़ को शांत किया।
सीओ ने बताया कि शराब पीने की आशंका पर इंस्पेक्टर का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है। मेडिकल में एल्कोहल की पुष्टि होती है तो मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद इंस्पेक्टर को निलंबित किया जाएगा। हादसा लापरवाही के कारण हुआ है। बेटे को खोने के गम में परिजन भड़ास निकाल रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इंस्पेक्टर रवि गौतम बोल पड़े हम मौके से लेके आ गए, चले गए होते तो क्या कर लेते। इसी बात पर भीड़ का गुस्सा बढ़ गया। भीड़ ने इंस्पेक्टर से हाथापाई की कोशिश की। पुलिस किसी तरह उन्हें बचाकर ले गई। हालांकि कोतवाली पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन देकर उन्हें शांत कराया।

कोतवाली इंस्पेक्टर अमित कुमार मिश्र ने बताया कि , कार सवार इंस्पेक्टर रवि गौतम बकेवर थाने में तैनात है जिन्हें हिरासत में ले लिया गया है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की जाएगी |