home page

खाने पीने को तरस रही विवाहिता

 | 
खाने पीने को तरस रही विवाहिता

एक तरफ जहां उत्तर प्रदेश सरकार महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए मिशन शक्ति योजना चला रहीं है वहीं मऊ जनपद की सरायलखंसी थाने की पुलिस महिलाओं की सुरक्षा को तार तार करनें में जुटी है । ये जो तस्वीर आप देख रहें है वो आज़ाद देश की तस्वीर हैं जहां कुछ कुंठा से ग्रसित लोग अभी भी स्त्री सिर्फ गुलाम समझतें हैं । यह ताजा मामला सरायलखंसी थाना क्षेत्र अंतर्गत उस्मानपुर का है जहां एक विवाहिता का इनके ससुराल वालों से विवाद के बाद जब वह मायके से अपने पति के घर उसके साथ रहने पहुंची तो महिला के पति सहित महिला के सास , व ससुर घर छोड़ के फरार हो गए । वहीं घर के अंदर अपनी बहू को ताले में बंद कर फरार हो गए ।

बतातें चलें उस्मानपुर के विवेक गुप्ता से दो वर्ष पहले वंदना गुप्ता की शादी हुई थी । वंदना का आरोप है कि शादी के 20 दिन के बाद ही पति पत्नी सहित परिवार के लोगों से विवाद शुरू हो गया । मामला थाने तक पहुँचा । इस बीच शादी के बाद वंदना ने एक बच्ची को जन्म दिया । बच्ची के जन्म के बाद से ही घर में कलह और बढ़ गया । विवाद के बाद भी महिला अपने पति के साथ रहने अपने ससुराल आ गयी । लेकिन महिला के ससुराल आते ही पति और सास , ससुर घर के अंदर अपनी बहू को ताले बंद कर फरार हो गए वही विवाहिता वंदना को बार बार उसकी सास और ससुर द्वारा मार पीट कर घर छोड़ कर भागने के लिए मजबूर किया जा रहा है । वंदना का आरोप है कि आए दिन ससुराल वाले उसका गला दबाकर मारना चाहते हैं जिससे पूरे मामले से छुटकारा मिल जाए या वंदना ससुराल छोड़ कर अपने मायके चली जाए । बहरहाल कुल मिलाकर वंदना के ससुराल वालों की वजह से वंदना सहित उसकी छोटी बच्ची अपने ही दादा दादी के प्रताड़ना को झेल रही है ।

 वहीं क्षेत्राधिकारी नगर धनंजय मिश्र ने पूरे प्रकरण को पारिवारिक विवाद बताया और कहा कि कुछ दिन पहले ये प्रकरण पुलिस के पास आया था दोनों पक्षों को बैठाकर काउनिंग की गई थी । दुबारा फिर बुलाकर महिला थाने के पास भेजकर प्रकरण को हल कराने की कोशिश की जाएगी ।